logo

केवल एक ही मार्ग

बाइबल के अनुसार, भगवान के पास जाने का एकमात्र मार्ग केवल येशू ही हैं। और कोई मार्ग नहीं हैं। आप एक समुचित जीवन जी सकते हैं, और कितने ही अच्छे काम कर सकते हैं, लेकिन वे आपको भगवान के निकट नहीं लाएंगे। आप एक अच्छे और दयालू व्यक्ती होने के बावजूद आपके मन और ह्रदय में पाप रहेगा। येशू के बिना आप अपने आपको न्याय्य प्रमाणित करने में सफल नहीं होंगे, या येशू आपके पक्ष में न होते आप भगवान से उचित संबंध स्थापित कर सकेंगे। आपको यह मानना पडेगा कि, आप एक पापी हो और आपको येशू के बलिदान की जरूरत है।

bilde

येशू ने कहा: "मैं मार्ग हूँ, सत्य हूँ, और जीवन हूँ. मेरे बिना कोई भी दूर नहीं आ सकता’’ (जॉन 14, 6)।

"और किसी दूसरे के द्वारा उद्धार नहीं; क्योंकि स्वर्ग के नीचे मनुष्यों में और कोई दूसरा नाम नहीं दिया गया, जिस के द्वारा हम उद्धार पा सकें॥" (प्रेरितों के काम 4, 12)

"यदि हम कहें, कि हम में कुछ भी पाप नहीं, तो अपने आप को धोखा देते हैं: और हम में सत्य नहीं।" (1.यूहनना 1, 8)

"तौभी यह जानकर कि मनुष्य व्यवस्था के कामों से नहीं, पर केवल यीशु मसीह पर विश्वास करने के द्वारा धर्मी ठहरता है (दस आज्ञाएं), हम ने आप भी मसीह यीशु पर विश्वास किया, कि हम व्यवस्था के कामों से नहीं पर मसीह पर विश्वास करने से धर्मी ठहरें; इसलिये कि व्यवस्था के कामों से कोई प्राणी धर्मी न ठहरेगा।" (गलातियों 2, 16)

"इसलिये कि सब ने पाप किया है और परमेश्वर की महिमा से रहित हैं। परन्तु उसके अनुग्रह से उस छुटकारे के द्वारा जो मसीह यीशु में है, सेंत मेंत धर्मी ठहराए जाते हैं।"(रोमियो 3,23-24)